आचार्य बालकृष्ण को यूएन में मिला सम्मान, अंतरराष्ट्रीय मंच से संस्कृत में किया संबोधित

28-05-2019-300by200-Ayurveda

आचार्य बालकृष्ण को यूएन में मिला सम्मान, अंतरराष्ट्रीय मंच से संस्कृत में किया संबोधित

आचार्य बालकृष्ण महाराज को स्वास्थ्य सेवाओं के लिए यूएनओ की संस्था यूएनएसडीजी (यूनाइटेड नेशन सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल) की ओर से सम्मानित किया गया है।

May 26, 2019:  भारत की ऋषि परंपरा के संवाहक पतंजलि योगपीठ (ट्रस्ट) के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण महाराज को स्वास्थ्य सेवाओं के लिए यूएनओ की संस्था यूएनएसडीजी (यूनाइटेड नेशन सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल) की ओर से स्वास्थ्य सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया है। स्विटजरलैंड में आयोजित शिखर समिट में 50 देशों से लगभग 500 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था। आचार्य बालकृष्ण ने इस अंतरराष्ट्रीय मंच से दुनिया को देवभाषा संस्कृत में संबोधित किया।

बता दें कि, विश्व हेल्थ समिट जेनेवा, स्विटजरलैंड में इंफेल्यिुंस प्यूपिल इन हेल्थ केयर अवॉर्ड से आयुर्वेद के आचार्य बालकृष्ण को सम्मानित किया गया। जेनेवा में केन्या के राष्ट्रपति  उहरू केन्याता ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में विश्व के 10 सबसे प्रभावशाली व्यक्तित्व की श्रेणी में स्थान देकर प्रतिष्ठित सम्मान दिया गया। दुनिया के 5 उन शीर्ष व्यक्तियों को यह सम्मान दिया गया है जिन्होंने मानवता के स्वास्थ्य स्तर और उसकी गुणवत्ता में सुधार करने के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया है।  आचार्य बालकृष्ण के अलावा यह सम्मान पाने वाले चार शीर्ष लोगों में संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनीसेफ/UNICEF) की कार्यकारी निदेशक हेनरिटा एच. फोर, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के डायरेक्टर  डॉक्टर टेड्रोस एधानोम घेब्रेयेसस, चीन के जाने माने वैकल्पिक चिकित्सा विशेषज्ञ एबे ली, PROPEDICA के प्रेसीडेंट और सीईओ रेंडी ओस्त्रा शामिल हैं। Read More….