(12-फ़रवरी-2017) पूर्वोत्तर राज्यों (Northeast) को जोड़कर भारत की समृद्धि के लिए आधार बनेगा पतंजलि।

northeast4

हरिद्वार, 12 फ़रवरी 2017 | पूर्वोत्तर राज्यों (Northeast) को जोड़कर भारत की समृद्धि के लिए आधार बनेगा पतंजलि। कृषि आधरित कार्यक्रम, गौ संरक्षण-संवर्धन, शिक्षा तथा आयुर्वेदिक अस्पताल के क्षेत्र में पतंजलि वहाँ कार्य करेगा।इन कार्यों हेतु अनुग्रह व आग्रह करते हुए असम राज्य के कार्बी एंगलांग ऑटोनोमस बोर्ड ने 2000 हेक्टयर भूमि प्रदान करने की पेशकश की। पिछले दिनों असम राज्य के कार्बी एंगलांग ऑटोनोमस बोर्ड के सदस्यों – बोर्ड चीफ़ excecutive member श्री तुलीराम रोंघंग, उपाध्यक्ष कांगजंग तेरंग, excecutive member तुलीराम सुरजया रोगपफर ,DFO जोगोनाथ रंगपि सहित अन्य 12 सदस्यीय दल ने पतंजलि योगपीठ, आचार्यकुलम, योगग्राम व पतंजलि आयुर्वेद का भ्रमण किया।
मेरे और परम पूज्य स्वामी जी महाराज के साथ हुई भेंटवार्ता में बोर्ड के सदस्यों व पतंजलि के सहयोग से असम राज्य के कार्बी एंगलांग क्षेत्र को समृद्ध बनाने हेतु सहमति बनी।