(18-जनवरी-2017) हरियाणा सरकार व पतंजलि के संयुक्त प्रयास से मोरनी हिल्स क्षेत्र विश्व जड़ी-बूटी उद्यान रूप में होगा विकसित

chandigarh

हरिद्वार, 18 जनवरी 2017 | पतंजलि अनुसंधान संस्थान एवं हरियाणा सरकार के संयुक्त प्रयास से मोरनी हिल्स क्षेत्र जो लगभग 21 हज़ार हैक्टयर वन क्षेत्र है, उसे विश्व जड़ी-बूटी उद्यान (World Herbal Forest) के रूप में विकसित करने के लिए आज चंडीगढ़ में (MOU) समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किये गए। इस अवसर पर मेरे साथ हरियाणा राज्य के माननीय मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी, स्वास्थ्य मंत्री माननीय श्री अनिल विज जी, कैबिनेट मंत्री माननीय कप्तान अभिमन्यु जी ,वन मंत्री माननीय श्री नरवीर सिंह जी,अन्य अधिकारी एवं शासन प्रशासन के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे ।यह कदम जड़ीबूटी संरक्षण संवर्धन,एवं शोध कार्य के क्षेत्र में वैश्विक स्तर पर एक अग्रणी भूमिका निभाएगा।इससे जड़ी बूटी के प्रति लोगों को रोज़गार,रुझान,विद्यार्थियों ,शोधार्थियों व किसानों के लिए एक राष्ट्रीय स्तर पर नया अवसर पैदा होगा ।यह विश्व का सबसे बड़ा जड़ी बूटी उद्यान होगा ।

1chandigarh